DIRECTOR’S MESSAGE

GOPAL JI SRIVASTAVA

श्री गुरुवे नमः। सर्वप्रथम अपने गुरुजन, माता एवं पिता का वन्दन करता हूँ और धन्यवाद देता हूँ कि उन्होंने मुझे इस प्रकार के साचें में ढाला है जिसमेें सामर्थ, साहस, दृढ़ इच्छा शक्ति एवं अपने समाज व देश के लिए कुछ अमिट कर जाने की लालसा है। मैं अपने समस्त आदरणीय अग्रजों को धन्यवाद देता हूँ जिनकी शुभकामनाएं, आशीर्वाद व ऐसा मार्गदर्शन मेरे साथ रहा कि मैं अपने समाज के लिए कुछ अच्छा कर सकूं। मैं अपने उन घनिष्ठ मित्रों का भी आभार प्रगट करता हूँ जिनका स्नेह व सहयोग सदैव मेरे साथ रहा एवं जो मुझे सदैव प्रोत्साहित करते हुए आत्मबल प्रदान करते रहे है।

 अत्यन्त हर्ष का विषय है कि ऊर्जानगरी सिंगरौली में उच्च षिक्षा हेतु महाविद्यालय (उच्च शिक्षा विभाग म.प्र. शासन से मान्यता प्राप्त व अवधेष प्रताप सिंह विष्वविद्यालय, रीवा से सम्बद्ध), सत्र 2010-2011 से चल रहा है।

एक महाविद्यालय जिसमें पाठ्यक्रमों जैसे – B.A. , B.Sc., B.Com, B.Lib, M.A., M.Com, M.Sc. व व्यावसायिक पाठ्यक्रमों जैसे – B.B.A., B.C.A, B.S.W. o M.B.A, M.C.A, M.S.W आदि संचालित हो रहे है। इस प्रतिस्पर्धात्मक दौर में श्री पंकज सिंह (प्राचार्य) व अन्य कुषल एवं अनुभवी षिक्षकों द्वारा छात्र-छात्राओं को रोजगार मूलक शिक्षा के अध्ययन के साथ-साथ कम्प्यूटर शिक्षा, प्रबंधन एवं व्यक्तित्व विकास आदि की शिक्षा प्रदान की जा रही है।

 महाविद्यालय तृतीय वर्ष की परीक्षा उत्र्तीण कर प्रबंधन की उच्च शिक्षा हेतु M.B.A व B.Ed. पाठ्यक्रमों में अपने छात्र-छात्राओं को प्रवेष एवं काउंसिलिंग हेतु कई उच्च स्तरीय महाविद्यालयों से अनुबंधित है।

महाविद्यालय में नियमित छात्र के रूप प्रवेष लेकर अध्ययन करने में असमर्थ लोगों को उच्च षिक्षा हेतू महर्षि महेष योगी विष्वविद्यालय, जबलपुर के माध्यम से दूरस्थ षिक्षा भी प्रदान की जा रही है।

गोपाल जी श्रीवास्तव
निदेशक